[2023] सीटेट का सिलेबस | CTET Syllabus In Hindi PDF Download

CTET Syllabus In Hindi 2023: जो उम्मीदवार सीटेट सिलेबस पीडीएफ खोज रहे है उनके लिए यहांं इसके बारे मेंं विस्तार पूर्वक जानकारी मिलने वाली है. यहांं CTET 2023 Syllabus In Hindi और परीक्षा पैटर्न की पूरी जानकारी दी गई है, जो कि उम्मीदवारोंं को जानना आवश्यक है आप CTET Syllabus Pdf in Hindi मेंं भी डाऊनलोड कर सकते है जिसकी जानकारी आपको आगे दी गई है

CTET Syllabus 2023 In Hindi

जैसा कि उम्मीदवार जानते है कि, केंंन्द्रीय प्राथमिक शिक्षक के पद पर नियुक्त होने के लिए CTET (केन्द्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा) देेना आवश्यक होता है। क्योकि इसको पास करने पर हमे एक प्रमाण पत्र दिया जाता है जो बहुत ही महत्वपूर्ण है। सीटीटी के लिए कई उम्मीदवार ऑनलाईन आवेदन करते है।

CTET Exam को पास करने के लिए सबसे पहले हमेंं इसके पाठ्यक्रम को जानना आवश्यक है। आज हम यहांं सीटीईटी का सिलेबस क्या है? यह तो जानेगेंं ही लेकिन CTET Syllabus 2023 Pdf In Hindi को जानने से पहले हमे इसके परीक्षा पैटर्न पर भी नजर डालनी होगी क्योकि इसके आधार पर ही तो पाठयक्रम वना होता है। CTET Exam Pattern In Hindi 2023 की जानकारी इस प्रकार है।

CTET Syllabus In Hindi

CTET Syllabus In Hindi 2023 Overview

Exam NameCentral Teacher Eligibility Test
DepartmentEducation Department
Post NameTeacher
Year2023
Article CategorySyllabus
Article LanguageHindi
Official Websitectet.nic.in
Join TelegramJoin Here

सीटेट परीक्षा पैटर्न 2023:-

CTET Exam Pattern In Hindi 2023 एक माध्यम है। जो हमे यह समझाता है कि इस परीक्षा मेंं कितने विषय से कितने प्रश्न परीक्षा मेंं पूछे जाएगेंं और इसके लिए कितना समय और अंंक निर्धारित है। CTET Exam मे दो पेपर होते है। पेपर-I और पेपर-II लेकिन उम्मीदवार चिंंतित ना हो, क्योकि प्राथमिक शिक्षक को ही दो भागोंं मेंं बाटा गया है।

पेपर-I कक्षा 1 से 5 तक के लिए और पेपर-II कक्षा 6 से 8 तक के लिए होगा इसका मतलब यह है कि उम्मीदवारोंं ने कक्षा स्तर का चुनाव स्वयंं ऑनलाईन आवेदन मेंं किया होगा। सीटेट परीक्षा पैटर्न को इस टेबल के माध्यम से समझना होगा जो इस प्रकार है

CTET Exam Pattern In Hindi PAPER I:

विषयप्रश्न संंख्याअंंकसमय
बाल विकास एवंं शिक्षण3030150 मिनिट
भाषाI3030
भाषा-I3030
गणित3030
पर्यावरण अध्ययन3030
कुल150150

CTET Exam Pattern In Hindi PAPER II:

विषयप्रश्न संंख्याअंंकसमय
बाल विकास एवंं शिक्षण3030150 मिनिट
भाषा-I3030
भाषा-II3030
गणित और विज्ञान या सामाजिक अध्ययन6060
कुल150150

सीटीईटी परीक्षा पैटर्न से संंबंंधित मह्त्वपूर्ण जानकारी:

सीटीईटी की परीक्षा दो चरणो मेंं आयोजित होती है। दोनो ही चरणो के सभी प्रश्न वैकल्पिक होते है। जो अभ्यर्थी प्राथमिक शिक्षक बनना चाहते है। उन्हे केवल पेपर-I की परीक्षा देनी होगी। लेकिन जो अभ्यर्थी कक्षा 1 से कक्षा 5 एवंं कक्षा 6 से कक्षा 8 के वर्ग के शिक्षक बनना चाहते हैंं उन्हे पेपर-I और पेपर- II दोनो की परीक्षा देनी होगी। सीबीएसई के निर्देशानुसार जो अभ्यर्थी परीक्षा मेंं न्यूतम 60 प्रतिशत अंंक प्राप्त कर लेते है उन्हे योग्य माना जाता है।

उम्मीदवार ध्यान रखे की सी.टी.ई.टी. परीक्षा में आरक्षण का लाभ प्रदान नही किया जाता सभी परीक्षार्थीयो को उत्तीर्ण होने के लिए न्यूनतम अंंक प्राप्त करना होगा। इसके बाद भर्ती परीक्षा के तहत भिन्न भिन्न राज्योंं या भर्ती संंस्थानो द्वारा उम्मीदवारोंं को आरक्षण की सुविधा प्रदान की जाती है।

उम्मीदवार ध्यान रखे सीटेट मूलतः एक योग्यता परीक्षा है जो अभ्यार्थीयो को योग्यता का प्रमाण पत्र देती है। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद अभ्यर्थी नियुक्ति के लिए दावेदारी पेश नही कर सकते। सीटीईटी प्रमाण पत्रो की वैधता 7 वर्षो की होती है।

CTET Syllabus In Hindi 2023 – सीटीटी के दोनो परीक्षा पैटर्न को हमने विस्तारपूर्वक समझ लिया है अब सीटीईटी के पाठयक्रम पर विषयवार नजर डालते है। CTET Syllabus In Hindi 2023 इस प्रकार है

CTET Syllabus in Hindi:-

सीटीईटी सिलेबस (पाठ्यक्रम) को विषय वार समझना होगा ताकि टोपिक्स को अच्छी तरह से समझा जा सके। CTET Syllabus In Hindi 2023 की दोनो परीक्षाओ के परीक्षा पैटर्न को हमने टेबल के माध्यम से जान लिया है।

उम्मीदवार ध्यान रखे कि दोनो परीक्षाओ के विषय जरूर समान हो सकते है लेकिन उनमेंं प्रश्नोंं का स्तर अलग-अलग हो सकता है इसलिए इसमेंं उलझना नही है। प्रश्नोंं का यह स्तर कक्षा के अनुरूप ही होगा। अब CTET Syllabus In Hindi 2023 पर एक नजर डालते है।

CTET Paper 1 Syllabus In Hindi (कक्षा 1 से 5 के लिए):

I. बाल विकास और शिक्षाशास्त्र

1.  बाल विकास (प्राथमिक विद्यालय बालक)
  • विकास की अवधारणा और अधिगम के साथ इसका संबंध 
  • बालकों के विकास के सिद्धांत      
  • आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव 
  • समाजीकरण की प्रक्रिया (सामाजिक दुनिया और बच्चे)      
  • पियागेट, कोह्लबर्ग, और वायगोत्स्की: निर्माण और महत्वपूर्ण दृष्टिकोण       
  • बाल-केंद्रित और प्रगतिशील शिक्षा की अवधारणा      
  • बौध्दिकता के निर्माण का विवेचित संदर्भ    
  • बहु-आयामी बौध्दिकता     
  • भाषा और चिंतन
  • एक सामाजिक निर्माण के रूप में लिंग (लिंग भूमिकाएं, लिंग-पूर्वाग्रह और शैक्षिक व्यवहार)   
  • व्यक्तिगत विभिन्नता    
  • अधिगम का मूल्यांकन   
  • शिक्षार्थियो की तैयारी स्तर मूल्यांकन
2.समावेशी शिक्षा की अवधारणा
  • गैर-लाभप्राप्त शिक्षार्थियोंं सहित विभिन्न पृष्ठभूमि के शिक्षार्थियों कि आवश्यकताओ को समझना    
  • अधिगम संंबंंधी समस्याएंं
  •  प्रतिभावान शिक्षार्थियो की आवश्यकताओ को समझना
3.सीखना और शिक्षाशास्त्र
  • बालक किस प्रकार सीखते और सोचते है
  • अध्यापन की बुनियादि प्रक्रियाएं
  • बालको में अधिगम की वैकल्पिक संकल्पना
  • बोध और संवेदनाएं
  • प्रेरणा और अधिगम
  • अधिगम में योगदान देने वाले कारक
 II. भाषा -‌I  भाषा की समझ और अध्ययन – हिंदी
  • अपठित गद्यांश
  • व्याकरण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • सुनने और बोलने की भूमिका (भाषा का कार्य)
  • किसी भाषा शिक्षण में व्याकरण की भूमिका
  • भाषा कौशल
  • भाषा की समझ और प्रवीणता का मूल्यांकन
  • शिक्षण- (शिक्षण सामग्री: पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, बहुभाषी संसाधन)
  • उपचारात्मक शिक्षण

III. Language – II – English

  • Learning and acquisition
  • Unseen passage
  • Grammar
  • Principles of language teaching
  • Role of listening and speaking (language work)
  • Role of grammar in teaching a language
  • Language skills
  • Assessment of language comprehension and proficiency
  • Teaching- (Teaching materials: textbooks, multi-media materials, multilingual resources)
  • Remedial teaching

IV. गणित शैक्षणिक मुद्दे

  • ज्यामिति
  • आकार और स्थानिक समझ
  • हमारे चारो ओर विधमान ठोस पदार्थ
  • संंख्याए
  • जोडना और घटाना
  • गुणा करना
  • विभाजन करना
  • मापन
  • भार
  • समय
  • परिमाण
  • आकडा प्रबंंधन
  • पैटर्न राशि
  • अंंक गणित
  • गणित / तार्किक सोच की प्रकृति
  • पाठ्यक्रम में गणित का स्थान
  • गणित की भाषा
  • सामुदायिक गणित
  • औपचारिक और अनौपचारिक तरीकों के माध्यम से मूल्यांकन
  • शिक्षण की समस्याएं
  • त्रुटि विश्लेषण और सीखने और शिक्षण से संबंधित पहलु
  • नैदानिक और उपचारात्मक शिक्षण

V. पर्यावरणीय अध्ययन

  • परिवार और मित्र ( संंबंंध, कार्य और खेल, पशु, पौधे)
  • भोजन और आश्रय
  • जल
  • भ्रमण
  • वे चीजें जो हम बनाते और करते है
  • पर्यावरण अध्ययन की अवधारणा और कार्यक्षेत्र 
  • पर्यावरण अध्ययन का महत्व, एकीकृत पर्यावरण अध्ययन
  • पर्यावरण अध्ययन और पर्यावरण शिक्षा
  •  सीखने का सिद्धांत
  • विज्ञान और सामाजिक विज्ञान से संबंध और संबंध
  • अवधारणाओं को प्रस्तुत करने के दृष्टिकोण 
  • क्रिया कलाप
  • चर्चा
  • शिक्षण सामग्री / एड्स
  • समस्याएंं

CTET Paper 2 Syllabus In Hindi (कक्षा 6 से 8 के लिए)

I. बाल विकास और शिक्षाशास्त्र

1.  बाल विकास (प्राथमिक विद्यालय बाल)
  • विकास की अवधारणा और अधिगम के साथ इसका संबंध
  • बालकों के विकास के सिद्धांत
  • आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव
  • समाजीकरण की प्रक्रिया (सामाजिक दुनिया और बच्चे)
  • पियागेट, कोह्लबर्ग, और वायगोत्स्की: निर्माण और महत्वपूर्ण दृष्टिकोण
  • बालकेंद्रित और प्रगतिशील शिक्षा की अवधारणा
  • बौध्दिकता के निर्माण का विवेचित संदर्भ
  • बहु-आयामी बौध्दिकता
  • भाषा और चिंतन
  • एक सामाजिक निर्माण के रूप में लिंग(लिंग भूमिकाएं, लिंग-पूर्वाग्रह और शैक्षिक व्यवहार)
  • व्यक्तिगत विभिन्नता
  • अधिगम का मूल्यांकन
  • शिक्षार्थियो की तैयारी स्तर मूल्यांकन
2.समावेशी शिक्षा की अवधारणा
  • गैर-लाभप्राप्त शिक्षार्थियोंं सहित विभिन्न पृष्ठभूमि के शिक्षार्थियों कि आवश्यकताओ को समझना
  • अधिगम संंबंंधी समस्याएंं
  • प्रतिभावान शिक्षार्थियो की आवश्यकताओ को समझना
3.सीखना और शिक्षाशास्त्र
  • बालक किस प्रकार सीखते और सोचते है
  • अध्यापन की बुनियादि प्रक्रियाएं
  • बालको में अधिगम की वैकल्पिक संकल्पना
  • बोध और संवेदनाएं
  • प्रेरणा और अधिगम
  • अधिगम में योगदान देने वाले कारक
II. गणित एवंं विज्ञान
  • अंंक गणित
  • वीज गणित
  • ज्यामिति
  • क्षेत्रमिति
  • आंंकडा प्रवंंधन
  • गणित / तार्किक सोच की प्रकृति
  • पाठ्यक्रम में गणित का स्थान
  • गणित की भाषा
  • सामुदायिक गणित
  • औपचारिक और अनौपचारिक तरीकों के माध्यम से मूल्यांकन
  • शिक्षण की समस्याएं
  • त्रुटि विश्लेषण और सीखने और शिक्षण से संबंधित पहलु
  • नैदानिक और उपचारात्मक शिक्षण
III. विज्ञान
  • भोजन ( भोजन के स्त्रोत, अवयव, स्वच्छ करना)
  • सामाग्री
  • जीव जंंतुओ की दुनिया
  • सचल वस्तुए, लोग और विचार
  • चीजे कैसे कार्य करती है
  • विधुत और करेंंट
  • चुंंबक
  • प्राकृतिक पद्धति
  • प्राकृतिक संंसाधन
  • विज्ञान की प्रकृति और संंरचना
  • प्राकृतिक विज्ञान / लक्ष्यऔर उद्देश्य
  • विज्ञान को समझना और सराहना करना
  • दृष्टिकोण / एकीकृत दृष्टिकोण
  • अवलोकन / प्रयोग / खोज (विज्ञान की विधि)
  • नई खोज
  • पाठ सामग्री /सहायता सामाग्री
  • मूल्यांकन संज्ञानात्मक / मनोप्रेरक / भावात्मक
  • समस्याएंं
  • उपचारात्मक शिक्षण

IV. सामान्य ज्ञान

1. इतिहास
  • कब, कहां और कैसे
  • प्रारंभिक समाज
  • कृषक पशुपालक एवं चरबाहे
  • प्रथम शहर
  • प्राथमिक राज्य
  • नए विचार
  • प्रथम साम्राज्य
  • दूरस्थ भूभागोंं के साथ संपर्क
  • राजनीतिक गतिविधिया
  • संंस्कृति और विज्ञान
  • नए सम्राट और साम्राज्य
  • दिल्ली के सुलतान
  • वास्तुकला
  • साम्राज्य का सृजन
  • सामाजिक परिवर्तन
  • क्षेत्रीय संंस्कृतिया
  • कंंपनी शाशन और स्थापना
  • ग्रामीण जीवन और समाज
  • उपनिवेशवाद और जनजातीय समाज
  • 185758 विद्रोह
  • महिलाएंं और सुधार
  • जाति व्यवस्था को चुनौती
  • राष्ट्रवादी आंंदोलन
  • स्वतंंत्रता के पश्चात भारत

2. भूगोल

  • विज्ञान के रूप मेंं भूगोल
  • ग्रह, सौर मंंडल मेंं प्रथ्वी
  • समग्रता मेंं पर्यावरण
  • वायु एवंं जल
  • मानव पर्यावरण
  • संंसाधन एवंं कृषि

3. सामाजिक और राजनीतिक जीवन

  •  विविधता
  • सरकार
  • स्थानीय सरकार
  • अजीविका हासिल करना
  • लोकतंंत्र
  • मीडिया
  • लिंंग भेद समाप्ति
  • संंविधान
  • संंसदीय सरकार
  • न्यायपालिका
  • सामाजिक न्याय और सीमांंत लोग

4. अध्यापन संंबंंधी मुद्दे

  • सामाजिक विज्ञान / सामाजिक अध्ययन की अवधारणा और प्रकृति
  • कक्षा कक्ष प्रक्रियाएँ, गतिविधियाँ और व्याख्यान
  • विवेचित सोच का विकास करना
  • पूछताछ / अनुभवजन्य साक्ष्य
  • सामाजिक विज्ञान / सामाजिक अध्ययन पढ़ाने की समस्याएं
  • स्रोत – प्राथमिक और माध्यमिक
  • परियोजना कार्य
  • मूल्यांकन

सीटीईटी की तैयारी के लिए Best Book

बाजार मेंं इससे संंबंंधित कई प्रकार की पुस्तके मौजूद है। ऐसा नही है कि हर एक पुस्तक से कुछ सीखने मिले या ना मिले क्योकि यह स्वयंं हम पर ही निर्भर करता है कि हमे तैयारी कैसे करनी है क्योकि ज्यादातर पुस्तको मेंं जो जानकारी होती है। वो एक समान ही होती है, क्योकि Topics तो सिलेबस से लिए गए है जो कि अलग-अलग तो हो ही नही सकते है।

यहांं हमने आपको विशेषज्ञो और उन शिक्षको के माध्यम से जिन्होनेंं इनको पढा है और समझा है। हमने यहा केवल उन्ही पुस्तकोंं को चुना है जो अभ्यार्थीयो के लिए ज्यादा मददगार है और जिनसे उम्मीदवारोंं को लाभ हुआ हो हमने सी ही कुछ प्रचलित पुस्तकोंं का चयन किया है।

नीचे आपको CTET Syllabus In Hindi 2023 और इससे संंबंंधित Best Book के वारेंं मेंं बताया गया है। यदि आप चाहते है तो उन्हे घर पर ही ऑनलाईन बुला सकते है जिसकी लिंंक नीचे दी गई है

CTET Syllabus 2023 Pdf In Hindi Download:

जैसा कि हमने CTET 2023 Syllabus In Hindi के बारे मेंं आपको हर विषय के अनुसार हर एक टोपिक्स के वारे मेंं बताया है। लेकिन ज्यादातर उम्मीदवार इसे PDF मेंं भी Download करना चाहते है। इसका समाधान भी हमने कर दिया है आप CTET Syllabus को पीडीएफ मेंं डाऊनलोड कर सकते है।

CTET Syllabus 2023 Pdf In Hindi Download कि लिंंक आपको नीचे दी गई है उस पर क्लिक करकेे आप इसे डाऊनलोड कर सकते है। जो इस प्रकार है

यदि ctet syllabus in hindi से संबंधित यह जानकारी पसंद आइ हो तो इसे शेयर जरूर करे आप इसी प्रकार के नये अपडेट के लिए आप हमसें सोसल मीडिया पर भी जुड सकते है। जिसकी लिंक नीचे दी गई है

CTET का सिलेबस डाउनलोड करेंEnglish | Hindi
सीटीईटी एडमिट कार्ड Click Here
सीटीईटी के लिए योग्यता देखेंClick Here
CTET 2022 NotificationClick Here
टेलीग्राम ग्रुप जॉइन करेंClick Here
YouTube चैनलसब्सक्राईब करें
Facebook पेजलाईक करें

FAQs: सीटेट सिलेसब से सम्बंधित प्रश्नोत्तर

Q. क्या uptet और ctet का सिलेबस एक जैसा है?

वैसे uptet एक राज्य की एवं ctet केंद्र लेवल की परीक्षा है। दोनों परीक्षाओ के पाठ्यक्रम में जो समान विषय है, उनमे कुछ समानता जरूर रहती है। पर सिलेबस में थोड़ा बदलाब भी देखने को मिल सकता है।

Q. सीटीईटी सिलेबस कैसे डाउनलोड करें?

सीटीईटी सिलेबस को डाउनलोड करना आसान है। हमने इस लेख के माध्यम में हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओ में सिलेबस डाऊनलोड करने की लिंक दी है। आप उनका उपयोग करके आसानी से पीडीएफ फ़ाइल डाऊनलोड कर सकते है।

Q. क्या 2023 में ctet का सिलेबस बदल जाएगा?

इस वर्ष सिलेबस में कुछ बदलाब होगा ऐसी कोई जानकारी आधिकारिक विज्ञापन से प्राप्त नहीं हुई है। यदि कोई अपडेट आएगा तो उसको प्रकाशित कर दिया जाएगा।

Q. क्या सीटीईटी परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होती है?

नहीं, गलत उत्तर या बिना प्रयास के प्रश्नों के लिए सीटीईटी परीक्षा में कोई नकारात्मक अंकन नहीं है।

Q. CTET परीक्षा में कितने प्रश्न पूछे जाते हैं?

CTET परीक्षा में पेपर 1 और पेपर 2 दोनों में 150 वस्तुनिष्ठ प्रकार के बहुविकल्पीय प्रश्न (MCQs) शामिल हैं।

सम्बंधित पोस्ट:

CTET Eligibility In Hindi
CPCT Eligibility In Hindi

20 Comments

Leave a Comment